Wednesday, February 9, 2011

शेयर खाता खोल सजनियाँ 23

ये दुनिया विज्ञापन की है रोज़ नए विज्ञापन देखो
विज्ञापन में हीरोइन हो,तुम तो शेयर को ही देखो
विज्ञापन से शेयर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
होती जब सरकार निकम्मी,भ्रष्ट व्यवस्था तब होती है
केवल उछलें-कूदें शेयर बाकी चीजें सब सोती हैं
बैठ निठल्ले,सोकर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
गाँधीवादी अगर बना तो जीवन भर चरखा कातेगा
पूंजीवादी बन जा प्यारे चांदी की थाली चाटेगा
पूंजी की पूजा कर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
टीवी में मल्टी-चैनल हैं मल्टी नेशन बना कंपनी
तू भी मल्टी-लखपति बन जा ऐसी कोई खोल कंपनी
दम कुबेर ही बन कर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।

No comments:

Post a Comment

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...