Wednesday, February 9, 2011

शेयर खाता खोल सजनियाँ 22

तेंदुलकर ने छक्के मारे सब रिकार्ड दुनिया के तोड़े
तोड़-फोड़ से तो अच्छा है तू पाई-पाई को जोड़े
तोड़ो नहीं जोड़कर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
जिसने शेयर धाम न देखा रहा हमेशा अस्त-व्यस्त वो
कभी नहीं होगा वो कड़का चीज़ चुनेगा मस्त-मस्त जो
बढ़िया मस्त कलंदर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
अपनी ढपली आप बजाओ तो ना हिल पाता है पत्ता
शेयर से ही मिल पाती है मायावी होती है सत्ता
माया सी ले चेयर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
बुला विदेशी कंपनियों को सब देशी करवालो कारज
शेयर लूट मुनाफे में हो जैसे भी बनवालो कागज़
आज़ादी को देकर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।

No comments:

Post a Comment

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...