Monday, February 7, 2011

शेयर खाता खोल सजनिया 18

झटका चाहे करे कसाई हलवा-खीर करे हलवाई
पर खाने को मिलता उसको जो शेयर से करे कमाई
भोजन मेज सजा कर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।
फ़ीस डाक्टर उस से लेता बढ़ जाता है जिसका फीवर
पर ब्रोकर जी देते उसको जिसका चढ़ जाता है शेयर
रखना दूर डाक्टर लेना, जैसे भी हो शेयर लेना।
फंसना हो तो पा लो चेयर हँसना हो तो जानी लीवर
रोता जिसके मन में हो डर ,मुस्काता जो ले ले शेयर
मत खाना अब ठोकर लेना जैसे भी हो शेयर लेना।
काल का पहिया घूमे भैया बीच समंदर डूबे नैया
डूबे तो हम-तुम डूबेंगे बच जायेगा यहीं रुपैया
पुनर्जन्म में आ फिर लेना,जैसे भी हो शेयर लेना।

No comments:

Post a Comment

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...