Wednesday, October 19, 2011

क्या आपसे भी पूछा है किसी ने ऐसा सवाल?

मुझे एस एम एस के ज़रिये किसी ने एक सवाल पूछा है. वैसे तो इस सवाल की अनदेखी भी की जा सकती है, पर पूछने वाले ने कहा है कि यह इनामी सवाल है. मैं इस सवाल को आपके साथ शेयर कर रहा हूँ. यदि मदद करेंगे तो शायद मेरा काम बन जाये. यदि सवाल पूछने वाला 'फ्रॉड' नहीं हुआ और उसने इनाम भी दे दिया, तो इनाम में आपका शेयर पक्का. सवाल यह है- 
"यदि देश की जनता दुखी हो तो वह सुखी कैसे होगी?" उत्तर के लिए पांच ऑप्शन भी दिए हैं [शायद सवाल पूछने वाला 'कौन बनेगा करोड़पति'नहीं देखता, उसे ये भी पता नहीं है कि ऑप्शन चार होते हैं, पांच नहीं] खैर, उसने ये ऑप्शन दिए हैं- 
[ए] भूखे रहने से 
[बी] चुप रहने से 
[सी] कसरत करने से 
[डी] यात्रा करने से 
[इ] कुछ नहीं करने से 
जहाँ तक मेरा दिमाग जाता है, मुझे तो इनमें से कोई भी ऑप्शन सही नहीं लगता, पर परेशानी यह है कि 'नन ऑफ दीज' का ऑप्शन है ही नहीं. आप ही देखिये- भूखे रहने से अन्न सड़ कर जाता है, जिससे किसान दुखी होता है. चुप रहने से पार्टियों के प्रवक्ता बोलते हैं, जिससे टीवी चैनल दुखी होते हैं. कसरत करने से बीमार हो जाते हैं, जिससे डाक्टर दुखी होते हैं[एलोपैथिक] यात्रा करने से मीडिया दुखी हो जाता है और पूछता है- आप सब जगह अब घूम रहे हैं, आपने देश पहले क्यों नहीं देखा, या फिर आप जनता की समस्याएं पूछने जा रहे हैं, आपको मालूम नहीं हैं? कुछ नहीं करने से वोटर दुखी होते हैं, 'इन्हें संसद में क्या करने भेजें'?और न भेजें तो और भी मुश्किल, ये बाहर क्या करेंगे? 

No comments:

Post a Comment

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...