Friday, January 11, 2013

युवा दिवस

आज युवा दिवस है।  स्वामी विवेकानंद का जन्म भी आज ही के दिन, डेढ़ सौ साल पहले हुआ।
आइये देखें, कौन होते हैं युवा?
वे जिनकी आयु 18 से 25 वर्ष के बीच चाहे न हो, वे मन और रचनात्मकता से स्वस्थ और सक्रिय होते हैं।
वे जो अपनी ज़रूरतों के लिए दूसरों पर आश्रित नहीं रह जाते।
वे जो दुनिया में अपने आने का मकसद समझने लग जाते हैं।
वे जिनमें यह अहसास हिलोरें लेने लगता है कि  अब वे ज़िम्मेदार नागरिक हैं।
वे जो अपने जीवन की आयोजना  आने वाली दुनिया को और बेहतर बनाने के लिए करने लगते हैं।
वे जो अब दूसरों की ज़िम्मेदारी अपने कन्धों पर लेने के लिए "पर तौलने" लगते हैं?
या
वे जो किसी की बात न मान कर मनमानी करने के लिए स्वाधीन हो जाते हैं?
वे जो गुटका खाने, शराब पीने, नशे का सेवन करने, महिलाओं, बुजुर्गों, बच्चों, अपंगों आदि से अभद्रता करने के लाइसेंसधारी हो जाते हैं?
वे जो अब समाज और देश से "लूटने" की योजना बनाने लग जाते हैं?
वे जो बस में, सिनेमाघर में पूरी सीट पाने के हकदार होकर  सड़कों पर हर चीज़ की तोड़फोड़ को अपना अधिकार समझने लगते हैं?
वे जो चाहते हैं कि  अब हर नियम-क़ानून और व्यवस्था हमारे पीछे चले?

2 comments:

  1. ओह, 150 साल मेन कितना कुछ बदला है और किस दिशा की ओर ... स्वामी विवेकानंद को नमन!

    ReplyDelete
  2. swami vivekanand ki smriti me vartmaan halaaton par nazar daalte hue is badlaav ko dekhne ke liye aap-ham n jaane koi vardaan jee rahe hain ya koi abhishaap!Dhanyawaad.

    ReplyDelete

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...